Search
  • जनकवि निर्दलबंधु ।।

अभी संकट से बचाओ देश को ।।

दिल्ली,गाजियाबाद की सड़कों में आज क्यों

लॉक डाउन के बाद उमड़ आई हजारों भीड़ है ?

घरों से निकलने के लिए विवश क्यों लोग

घोर संकट का दंश झेल रहा क्यों गरीब है ?


यह हाड़तोड़ मेहनतकश मजदूर हैं सब आज

जीने के लिए मोहताज हर चीज है ।

देश दुनिया में धाक जमाने वाले क्यों आज

घर गांव मुल्क मुकाम बिनाश के नजदीक है ।।


कुंभ मेले का खर्च 4000 करोड जहां वही

विज्ञापनों में खर्च 4000 करोड़ के करीब है।

एक ही स्टैचू बनाने में साढ़े तीन हजार करोड़

जबकि कुल आबादी 130 करोड़ के बीच है ।।


धन तो लूट गया लुटेरों के हाथ या उड़ा दिया,

देश चुनावों जश्न जलसों आडम्बरों में लवलीन है।

मंदिरों तीर्थों में लुटे ,उड़े जहां ढेरों ढेर वही

दंगों आक्रमणों उपद्रवों विद्रोहों से देश पलीत है ।।


बता दें भारत के पास वह राजकोष होता

सालों साल घर में पल जाता जो गरीब है।

यदि देश के शासकों ने सुशासन किया होता यहां

मांगनी पडती क्यों आज सहयोग की भीख है ।।


आज सबक लेलो कल कैसे सुख समृद्धि बचेगी

नव निर्माण की राह चलें असंभव क्या चीज है ।

अभी संकट से बचाओ देश को पहले

दुनिया जिससे आज आतंकित भयभीत है ।।

10 views

Recent Posts

See All

आहटें दी हैं अन्तः से

मेरा देश भारत धरती का स्वर्ग खंड है ।सनातन काल से यहां लिप्त लोलुप ताकतों ने यहां की अपार सुख समृद्धि व मानव शक्ति का शोषण व दुरुपयोग किया है ।निजी स्वार्थ व अमन चैन की बृत्ति प्रवत्ति से प्रेरित ताक

तब तो कहूँ नंबर वन रहे ।।

जे पी नड्डा जी कहें कि मोदी जी संक्रमण रोकने में नंबर वन रहे । इससे बड़ी तारीफ भी और क्या पहला संक्रमण ज्ञात हुआ मगन रहे।। संक्रमित देशों से लाखों भीड़ लाए सभा समारोह में नंबर वन रहे । देखते-देखते चंद

'नया भारत-संदर्भ सार'

"आदर्श लोकतंत्र की रीति परंपराओं ,मान मर्यादाओं व नीति व्यवस्थाओं की सरेआम धज्जियां उड़ाने वाले स्वेच्छाचारी निरंकुश व अनगढ़ राजाओं में नरेंद्र मोदी का नाम सर्वोपरि रहेगा। अपने आप को सबसे समझदार हितेष

  • Facebook
  • Instagram
  • YouTube